Trending News

पॉर्न फिल्म बनाने के मामलें में शिल्पाशेट्टी के पति राज को 27 जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेजा गया,व्हाट्स अप के जरिये चला रहे थे पार्न बिजनेस

[Edited By: Vijay]

Friday, 23rd July , 2021 06:18 pm

पॉर्न (अश्लील) फिल्में बनाने और उन्हें कुछ ऐप के माध्यम से प्रसारित करने के मामले में मुंबई की एक अदालत ने बिजनेसमैन और बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा को 27 जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है। आपको बता दें कि मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कुंद्रा की गिरफ्तारी की थी। पुलिस ने बताया कि कुंद्रा इस मामले के मुख्य साजिशकर्ता हैं।

कुंद्रा को मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने 19 जुलाई की रात को गिरफ्तार किया था। इससे पहले उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया था। पूर्व की हिरासत की अवधि समाप्त होने पर शुक्रवार को उन्हें मजिस्ट्रेट अदालत के समक्ष पेश किया गया। पुलिस ने मामले में और जांच के मकसद से उनकी हिरासत बढ़ाने का अनुरोध किया।

पुलिस ने इससे पहले अदालत को बताया था कि 45 वर्षीय कारोबारी अश्लील फिल्मों के निर्माण एवं बिक्री की अवैध गतिविधि से आर्थिक लाभ कमा रहे थे। पुलिस ने दावा किया कि उसने कुंद्रा का मोबाइल फोन जब्त किया है और इसमें मौजूद सामग्रियों की जांच जरूरी है और साथ ही उनके कारोबारी सौदों एवं लेन-देन को भी देखना होगा। कुंद्रा के अलावा, पुलिस ने दूसरे आरोपी रयान थोरपे (Ryan Thorpe) को भी अदालत में पेश किया। अदालत ने उसकी हिरासत की अवधि भी 27 जुलाई तक बढ़ा दी।

मुंबई पुलिस ने एक बयान में कहा कि अश्लील फिल्में बनाने और कुछ ऐप के माध्यम से उन्हें प्रसारित करने का मामला मुंबई क्राइम ब्रांच में फरवरी 2021 में दर्ज किया गया था। पुलिस ने कहा कि वह इसमें मुख्य साजिशकर्ता प्रतीत होते हैं। हमारे पास इस बारे में पर्याप्त सबूत हैं। उपनगरीय मुंबई के मालवानी पुलिस स्टेशन में चार फरवरी को मामला दर्ज किया गया था।

पॉर्न फिल्म रैकेट मामले में राज कुंद्रा के पास से क्राइम ब्रांच को 70 पॉर्न वीडियो मिले हैं। ये करीब 30 मिनट के हैं।इन पॉर्न वीडियो को अलग-अलग छोटे प्रोडक्शन हाउस में बनाए गए थे। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ये सभी प्रोडक्शन हाउस प्रॉपर्टी सेल के जांच के दायरे में आ गए हैं। इसके अलावा सूत्रों ने यह भी बताया है कि हॉटशॉट ऐप के लिए 90 वीडियो बनाए गए थे, जिन्हें हॉटशॉट पर अपलोड किया जाता है। ये वीडियो 20-30 मिनट के हैं। क्राइम ब्रांच ने राज कुंद्रा के घर पर रेड मारा और उन्हें सर्वर भी हाथ लगा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुंबई क्राइम ब्रांच ने पूछताछ के दौरान राज कुंद्रा को उन वीडियो से कन्फ्रंट किया जो उमेश कामत ने यूके बेस्ड प्रॉडक्शन कंपनी केनरिन को भेजे थे। पुलिस ने सर्वर को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि केनरिन के लिए क्या वह खुद पॉर्नोग्राफिक मटीरियल अपलोड किया करते थे।

आईटी एक्ट और आईपीसी के तहत होगी इतनी सजा
बता दें कि भारत में पोर्नोग्राफी को लेकर काफी सख्त कानून है। इसे रोकने के लिए देश में एंट्री पोर्नोग्राफी लॉ बनाया गया है। इस लॉ के अंदर आप किसी दूसरों की अश्लील वीडियो या फोटो शेयर नहीं कर सकते और ना ही  इसे किसी साइट पर पब्लिश कर सकते हैं। भारत में ये अपराध माना जाता है। वहीं राज कुंद्रा पर ये दोनों तरह के आरोप हैं। इसलिए उन पर आरोप साबित होने के बाद, इन्हीं कानून के आधार पर कार्रवाई होगी। ऐसे में राज कुंद्रा के खिलाफ आईटी एक्ट और आईपीसी की धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।  अगर उनपर लगे सारे आरोप सच साबित होते हैं तो उन्हें 5 से 7 साल तक की सजा हो सकती है। उन्हें ज्यादा से ज्यादा 10 साल जेल में काटने पड़ सकते हैं।

ऐसे मामलों में आईटी(संसोधन) एक्ट 2008 की धारा 67 (ए) और आईपीसी की धारा 292, 293, 294, 500, 506 और 509 के तहत सजा का प्रावधान है। जब पहली बार आरोपी दोषी साबित हो जाता है तो उसे 5 साल की जेल और 10 लाख रुपये तक दंड भरने की सजा भुगतनी पड़ सकती। वहीं दूसरी बार साबित होने पर 7 साल की जेस और 10 लाख का जुर्माना रहता है। 

 

Latest News

World News