Trending News

दूसरे साल भी फीकी पड़ी बकरीद नही होगा सामूहिक नमाज का आयोजन

[Edited By: Vijay]

Tuesday, 20th July , 2021 02:14 pm

कोरोना काल में त्योहारों का तरीका भी बदल गया ,इस बार भी बकरीद के त्योहार को कोरोना प्रोटोकॉल के साथ मनाना होगा. कानपुर में पुलिस और प्रशासन ने बकरीद में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कराने की तैयारी की है, जिसके लिए मुस्लिम धर्मगुरुओं के साथ बैठक कर इस बारे में एक राय बनायी गयी कि, ईदगाहों में नमाज नहीं होगी.

वहीं, धर्मगुरू भी लोगों से अपील कर रहे हैं कि सामाजिक दूरी का पालन करते हुए त्योहार मनाएं. कानपुर में कोरोना संक्रमण से पहले बकरीद के मौके पर ईदगाहों में सामूहिक नमाज का आयोजन होता आया है.

कोरोना संक्रमण के कारण इस बार ईदगाहों में बकरीद की नमाज नहीं अदा की जाएगी. मुस्लिम धर्मगुरुओं का कहना है कि कोरोना की थर्ड वेव की सम्भावना बनी हुई है, ऐसे में लोगों को त्योहारों की खुशी मनाते समय अपनी जिम्मेदारी को नहीं भूलना चाहिए.

बकरीद में लोग सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करें. वहीं, कुर्बानी खुले स्थानों में नहीं की जाए, साथ ही कुर्बानी के बाद व्यापक तरीके से साफ सफाई की जाए. शहर काजी हादी अब्दुल कुद्दूस ने कहा कि, त्योहार में लोग फासद करने से बचे. मुस्लिम समुदाय के लोग अपने पड़ोस में रहने वाले लोगों को खुशी में शामिल करें.

वहीं कोरोना को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश में 21 जुलाई को किसी भी सार्वजनिक स्थल पर कुर्बानी बर्दाश्त नहीं होगी. इसके साथ ही किसी भी जगह पर 50 या इससे अधिक लोगों को एकत्र नहीं होने दिया जाएगा. मुख्यमंत्री ने प्रशासन को निर्देश दिए है कि वह सुनिश्चित करें कि बकरीद पर गोवंश व ऊंट की कुबार्नी न हो.

उत्तर प्रदेश के कई मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कोरोना संक्रमण के कारण बकरीद की नमाज मोहल्ले की मस्जिदों में ही अदा करने की अपील की है. इसके अलावा लगातार दूसरे साल बकरीद पर ऊंटों की कुबार्नी नहीं की जाएगी, सरकार ने अब इस पर प्रतिबंध लगा दिया है.

बकरीद के त्योहार के मद्देनजर प्रशासन ने भी अपनी तैयारी की है. पहले ही धर्मगुरुओं के साथ बैठक कर ताकीद की जा चुकी है कि, बकरीद में कोरोना के नियम नहीं टूटे. जिसके चलते ईदगाहों में नमाज अदा करने की अनुमति नहीं दी गयी है.

पुलिस कमिश्नर असीम अरुण का कहना है कि, स्थानीय स्तर पर मस्जिदों में नमाज अदा करने की अनुमति है. यहां पर भी एक बार में 50 से अधिक लोग नमाज अदा नहीं करेंगे. वहीं, लोगों से नमाज के दौरान दूरी मेंटेन करने को कहा गया है. पुलिस कमिश्नर ने कहा कि बकरीद में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कराने के लिए व्यापक तैयारियां की गयी है.

प्रशासन के साथ मुस्लिम धर्मगुरु अपील कर रहे हैं कि, बकरीद के सेलिब्रेशन में कोरोना प्रोटोकॉल की अवहेलना न हो. कोरोना की तीसरी लहर आने की सम्भावना है ऐसे में लोगों को भी अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी, ताकी लोग कोरोना के वाहक न बनें बल्कि इसे रोकने में अपनी भागीदारी करें.

Latest News

World News