Trending News

रामजन्मभूमि ट्रस्ट की फर्जी वेबसाइट बनाकर चंदा जमा कर रहे थे - पकड़े गये

[Edited By: Vijay]

Tuesday, 22nd June , 2021 01:25 pm

रामजन्मभूमि कई विवादों में घिरी हुई है वहीं  दूसरा मामला सामने आया जहाँ यूपी पुलिस ने राम जन्मभूमि ट्रस्ट की फर्जी वेबसाइट बनाकर धोखाधड़ी करने वाले पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया. साइबर क्राइम टीम ने नोएडा और लखनऊ से आरोपियों को गिरफ्तार किया.

पुलिस के अनुसार आरोपियों को नोएडा की एक अदालत में पेश करने के बाद अयोध्या ले जाया जाएगा. इस मामले में मुकदमा जनपद अयोध्या में दर्ज है और सभी आरोपी दिल्ली के रहने वाले हैं. श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य अनिल कुमार मिश्रा ने थाना रामजन्म भूमि जनपद अयोध्या में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि जन्मभूमि ट्रस्ट की वेबसाइट पर लोग मंदिर निर्माण के लिए चंदा जमा कर रहे हैं

पुलिस अधीक्षक साइबर अपराध त्रिवेणी सिंह ने बताया कि थाना राम जन्मभूमि  में 30 जनवरी 2021 को एक मुकदमा दर्ज किया गया था. मामले में आरोप है कि राममंदिर जन्मभूमि ट्रस्ट के नाम से फर्जी वेबसाइट बनाकर कुछ लोग श्रद्धालुओं से ठगी कर रहे हैं.कुछ लोगों ने अपने जमा किए हुए चंदे के बारे में जानकारी ली, तो पता चला कि उनका चंदा ट्रस्ट के खाते में पहुंचा ही नहीं. छानबीन में पता चला कि इसी नाम से दूसरी वेबसाइट बनाकर ठग सोशल मीडिया पर लोगों से इसमें दिए गए खाते में चंदे की रकम जमा करने की अपील कर रहे थे.

उन्होंने बताया कि घटना की जांच कर रही नोएडा तथा लखनऊ साइबर क्राइम टीम ने सोमवार को सूचना के आधार पर पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया.आरोपियों का नाम आशीष गुप्ता, नवीन कुमार, सुमित कुमार, अमित झा और और सूरज गुप्ता है. उन्होंने बताया कि इनके पास से पुलिस ने पांच मोबाइल फोन, एक लैपटॉप, दो सिम कार्ड, 50 आधार कार्ड की कॉपी आदि बरामद किए हैं. उन्होंने बताया कि पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है और यह जानकारी प्राप्त की जा रही है कि धोखाधड़ी के इस मामले में कौन शामिल है.

पकड़े गए युवक दिल्ली के रहने वाले और सभी इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट के छात्र हैं. आपको बता दें कि पड़ताल में सामने आया था कि फेक आईडी पर खाता खोला गया है जिसके बाद मामले की जांच साइबर क्राइम सेल को दी गई. एडीजी रामकुमार ने बताया कि छानबीन में पता चला कि नोएडा में किसी जगह से इस फर्जी वेबसाइट को ऑपरेट किया जा रहा है. इस पर नोएडा की टीम ने छापेमारी करके अमेठी यूपी निवासी आशीष गुप्ता (21), नवीन कुमार(26), सूरज गुप्ता(22), सीतामढ़ी बिहार निवासी अमित झा(24) और दिल्ली अशोक विहार निवासी सुमित कुमार (22) को गिरफ्तार किया. यह सभी पढ़ाई करने के लिए दिल्ली के अशोक विहार में किराए के मकान में रहते थे.

आरोपियों के 6 बैंक खातों की डिटेल मिली, जिनमें चंदे की रकम जमा की जा रही थी, दो खातों से ढाई लाख रुपए भी मिल गए हैं.

Latest News

World News